भारत की शानदार शुरूआत मेजबान को आठ विकेट से हराया

नेपियर। आस्ट्रेलिया को हराने के बाद आत्मविश्वास से ओतप्रोत भारतीय क्रिकेट टीम ने उसी लय को बरकरार रखते हुए पहले वनडे में न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हराया हालांकि डूबते सूरज की रोशनी के कारण खेल कुछ देर के लिये रोकना पड़ा। आस्ट्रेलिया में टेस्ट और वनडे श्रृंखला जीतकर यहां आई भारतीय टीम ने पांच मैचों की इस श्रृंखला का आगाज जीत के साथ किया। जीत के लिये 156 रन का संशोधित लक्ष्य भारत ने 34–5 ओवर में आठ विकेट खोकर हासिल कर लिया। पहली बार मैच में ऐसे हालात में डकवर्थ लुईस प्रणाली का इस्तेमाल किया गया जिसमें बारिश के कारण व्यवधान पैदा नहीं हुआ था। इससे पहले स्पिनर कुलदीप यादव और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड को महज 38 ओवर में 157 रन पर आउट कर दिया था। कलाई के स्पिनर यादव ने 10 ओवरों में 39 रन देकर चार विकेट लिये जबकि शमी ने छह ओवरों में 19 रन देकर तीन विकेट चटकाये। 

लेग स्पिनर कुलदीप चहल ने दो विकेट लिये। न्यूजीलैंड के लिये कप्तान केन विलियमसन ने 81 गेंद में 64 रन बनाये। जवाब में शिखर धवन ने आक्रामक अंदाज में पारी का आगाज किया और 103 गेंद में 75 रन बनाये। उन्होंने अपनी पारी में छह चौके भी जड़े। भारत का स्कोर जब एक विकेट पर 44 रन था तब डूबते सूरज की रोशनी के कारण गेंद नहीं देख पाने की वजह से मैच रोकना पड़ा । अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसी दिक्कत पहली बार देखने को मिली। करीब आधे घंटे के विलंब के कारण लक्ष्य 49 ओवरों में 156 रन का कर दिया गया जो भारत ने बिना किसी परेशानी के हासिल कर लिया । डिनर के बाद रोहित शर्मा अपना विकेट गंवा बैठे लेकिन विराट कोहली और धवन ने टीम को जीत तक पहुंचाया । कोहली ने 59 गेंद में तीन चौकों की मदद से 45 रन बनाये । तेज गेंदबाज लोकी फग्युर्सन ने उन्हें विकेट के पीछे लपकवाया।  धवन अपना 26वां वनडे अर्धशतक पूरा करने के साथ ही सबसे तेजी से 5000 रन पूरे करने वाले संयुक्त चौथे बल्लेबाज बन गए। उन्होंने 118 पारियों में यह आंकड़ा पार किया। पिछली नौ पारियों में अर्धशतक नहीं बना सके धवन ने इस पारी के बाद राहत की सांस ली। इससे पहले टास जीतकर बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की शुरूआत बहुत खराब रही। 



दोनों सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और कोलिन मुनरों पांच ओवर के भीतर ही पवेलियन लौट गए जब स्कोर बोर्ड पर मात्र 18 रन टंगे थ। दोनों को शमी ने बोल्ड किया। गुप्टिल के विकेट के साथ ही शमी ने वनडे क्रिकेट में 100 विकेट पूरे कर लिये और वह सबसे तेजी से वनडे विकेटों का शतक लगाने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए। पिछले साल काफी कामयाब रहे रोस टेलर ने 41 गेंद में 24 रन बनाये लेकिन चहल ने अपनी ही गेंद पर उनका रिटर्न कैच लपका । चहल ने अपनी रफ्तार बदलकर बल्लेबाजों को जमकर परेशान किया। टेलर और विलियमसन के क्रीज पर रहने तक लग रहा था कि कीवी टीम बड़ा स्कोर बनायेगी। दोनों ने कुछ अच्छे शाट्स लगाये। टाम लाथम को भी चहल ने इसी अंदाज मे आउट किया। हेनरी निशोल्स और मिशेल सेंटनेर ने एक छक्का और दो चौके लगाये लेकिन क्रमश: जाधव और शमी का शिकार हुए। न्यूजीलैंड का स्कोर 30वें ओवर में छह विकेट पर 133 रन था। इस बीच विलियमसन की एकाग्रता भी भंग हुई और वह यादव को लांग आन पर ऊंचा शाट खेलने के प्रयास में विजय शंकर को कैच दे बैठे।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
WhatsApp chat