होगी न बात प्यार की अब पाक तूँ सुन ले….

होगी न बात प्यार की अब पाक तूँ सुन ले
अब भी है वक़्त सुधर जा ये बात तूँ सुन ले।

  अंजाम बुरा होगा वरना देश का तेरे
डगमगा रहे हैं कदम तेरे अब भी संभल ले।

  औकात तेरी क्या है ये सबको पता है
मरने से पहले जान बचा के तूँ निकल ले।

  बस आ गया है वक्त तेरे नस्नाबूत का
 जितना भी मचलना है गीदड़ तूँ मचल ले।

   शेरों का इंडिया है यहाँ शेर पलते हैं

‘एन.के’ की बात मान और खुद को बदल ले।

   ‘मोदी’ के बढ़ते कदमो को न रोक पायेगा
नक्शे से तूँ मिट जाएगा गर दिल मे ये धर लें

    

..✍✍ एन.के मौर्य की कलम से



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
WhatsApp chat