जहरीली शराब बना मौत का प्याला, यूपी मे हुई 16 मौतों से मचा हड़कंप !

सीएम योगी ने कसे जिम्मेदारों के पेच, दिया सख्त कार्यवाही का निर्देश

 
अगर आप में है जज्बा सत्य को खोज कर सामने लाने का बनना चाहते हैं सच्चे कलम के सिपाही करना चाहते हैं राष्ट्र सेवा तो संपर्क करें :- 6262-05-6262

एन.के मौर्य / नवल पाण्डेय

(IA2Z लखनऊ )- यूपी मे जहरीली शराब मौत का प्याला बनता जा रहा है, आजमगढ़ के बाद आज कुशीनगर व सहारनपुर मे फिर हुई 16 मौतों से शासन प्रशासन में हड़कंप मच गया है, सीएम योगी की निगाहें जिम्मेदारों पर तन गयी है, और उन्होंने कड़े शब्दों मे सम्बंधित अधिकारियों को जहरीली शराब में लिप्त कारोबारियों पर सख्त कार्यवाही का आदेश दिया है।

   
बताते चलें कि बिहार में जहाँ जहरीली शराब का अवैध कारोबार ख़त्म होने के कागार पर है वहीँ यूपी मे यह धंधा कुटीर उद्योग बनता जा रहा है, अवगत हो कि उक्त धधकती भट्ठियों की आंच मे झुलसकर तमाम नवयुवकों की जिंदगियां बर्बादी के दलदल में फंसती जा रही है। बताते चलें कि बीते दिनों आजमगढ़ मे भी लगभग 2 दर्जन लोग जहरीली शराब पीकर मौत के मुँह मे समाये थे, मगर शासन प्रशासन ने इससे सबक नही सीखा, परिणाम स्वरूप आज दिनांक 8 फरवरी 2019 को कुशीनगर और सहारनपुर मे अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि दर्जनो लोग अस्पताल मे जिंदगी और मौत के बीच करवट बदल रहे हैं। बता दें कुशीनगर के तरयासुजान थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने वाले पांच और लोगों की गुरुवार को मौत हो गई थी, जबकि बुधवार को भी पांच लोग मौत के मुँह में समाये थे।


उधर शुक्रवार को सहारनपुर के अलग-अलग गांवों में जहरीली शराब पीने से 16 लोगों की मौत हो गई। गौरतलब हो कि जहरीली शराब की बिक्री को रोकने की जिम्मेदारी आबकारी विभाग की होती है मगर देखने को मिलता है कि राज्य में अवैध शराब माफियाओं का हौसला हमेशा बुलंद ही रहता है. अखिलेश सरकार में उन्नाव और लखनऊ में जहरीली शराब पीने से 33 लोगों की मौत हो गई थी. उस वक्त भी कार्रवाई की बात कही गई थी, मगर शराब के भट्ठियों की आंच ख़त्म होने की बजाय बढ़ती ही रही है। यूपी मे ऐसी घटनाएं लगातार हो रही हैं. अवैध शराब का नेटवर्क पूर्वी यूपी से पश्चिमी यूपी तक फैला हुआ है. इससे साफ जाहिर होता है कि जहरीली शराब का यह पूरा नेटवर्क बिना प्रशासन की मिलीभगत के नहीं चल सकता, कहीं न कहीं इन्हें खाकी व आबकारी विभाग का सह प्राप्त है। बताते चलें कि बीते साल के मई के महीने में उत्तर प्रदेश के कानपुर और कानपुर देहात में ज़हरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत हो हुई थी. इसी तरह साल 2018 के जनवरी में बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 9 लोगों की मौत हो गई थी. गाजियाबाद में भी जहरीली शराब से चार लोगों की मौत पिछले साल हुई थी. हालांकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में सख्ती बरतते हुए जिलाधिकारियों को जल्द कार्रवाई का निर्देश दिया है, अब देखना तो यह है कि भट्ठियों की सुलगती मौत रुपी आग कहाँ तक बुझ पाती है।

थानेदार व आबकारी निरीक्षक समेत 9 लोग हुए सस्पेंड

अवगत हो कि मौत के मुँह में समाये लोगो से खिन्न प्रशासन ने इस मामले में थानेदार और आबकारी निरीक्षक समेत 9 लोगों को सस्पेंड कर दिया है. कच्ची शराब बेचने वालों पर मुकदमा दर्ज कर एक कारोबारी को गिरफ्तार भी किया गया है

सीएम ने किया डीजीपी से रिपोर्ट तलब

मुख्यमंत्री ने डीजीपी से भी कहा है कि वह जिम्मेदार अधिकारियों पर खुद कार्रवाई का निर्णय लें. लेकिन आबकारी विभाग अभी भी सो ही रहा. कार्रवाई के नाम पर कुछ छोटे कर्मचारियों पर गाज गिरी है, बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए सिर्फ आश्वासन ही दिया जा रहा है. फिलहाल सीएम ने डीजीपी आईजी गोरखपुर और सहारनपुर से रिपोर्ट प्रेषित करने की बात कही है।

  जहरीली शराब को लेकर जनपद गोण्डा मे चला धरपकड़ अभियान

पुलिस अधीक्षक गोण्डा द्वारा जनपद में अवैध शराब के निष्कर्षण, बिक्री व परिवहन पर प्रभावी नियन्त्रण बनाये रखने हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत जनपद के विभिन्न थाना क्षेत्र की पुलिस द्वारा तत्परता पूर्वक कार्यवाही करते हुए कुल-07 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके पास से कुल 110 लीटर कच्ची शराब की बरामदगी की गयी कार्यवाही का विवरण निम्न प्रकार है-

थाना तरबगंज

01. शेष सुरेश पुत्र वंशराज नि0 मंहगी पुरवा थाना तरबगंज जनपद गोण्डा के कब्जे सेे 20 ली0 अवैध कच्ची शराब बरामद कर मु0अ0सं0-29/19  धारा 60 आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही की गयी।

थाना छपिया

01. बल्ले पुत्र  श्याम लाल नि0 मल्हीपुर थाना छपिया जनपद गोण्डा के कब्जे से 20 ली0 अवैध कच्ची शराब बरामद कर मु0अ0सं0-33/19  धारा 60 आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही की गयी।

थाना खोड़ारे

01. आज्ञाराम पुत्र पुत्तन नि0 बड़की केवटहिया मौजा केशवनगर ग्रण्ट पूर्वी थाना खोड़ारे जनपद गोण्डा के कब्जे सेे 20 ली0 अवैध कच्ची शराब बरामद कर मु0अ0सं0- 19/19, धारा 60 आबकारी अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
WhatsApp chat